Reported By: |नेहा दुबे | Updated: Dec 21, 2022, 06:20 PM IST

Bazar ki News : चांदी ने दिया शेयर बाजार और सोने से ज्यादा रिटर्न…जानें वजह

Bazar ki News: Silver gave more returns than the stock market and gold… know the reason

नई दिल्ली/नवप्रदेश। Bazar ki News : बीते कुछ दिनों में शेयर बाजार में तेजी बढ़ गई है या सोना आपको सबसे अधिक चमकता नजर आ रहा है? आप गलत नहीं हैं, शेयर बाजार और सोना दोनों में बीते दो महीनों में उछाल आई है। लेकिन इस दौरान निवेशकों को सबसे अधिक शेयर बाजार में उछाल मालामाल चांदी ने किया है। बीते दो महीनों में चांदी की कीमत में 23 फीसदी से अधिक की तेजी आई है, जो कि सोने (9%) और सेंसेक्स (3%) में आई उछाल से दो गुना से भी अधिक है।

दो महीने पहले 21 अक्टूबर को एक किलो चांदी का दाम 55 हजार 555 रुपए प्रति किलो था, जो 21 दिसंबर को बढ़कर 68 हजार 471 रुपए प्रति किलो हो गया। यह 23 फीसदी से अधिक की उछाल है। सिर्फ भारत में ही नहीं, दुनियाभर में चांदी की कीमत में उछाल देखने को मिली है। इस साल चांदी की मांग रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने और सप्लाई शेयर बाजार में उछाल में कमी ने इस सफेद धातु के दाम को इस ऊंचाई पर पहुंचाया है। जानकारों का मानना है कि नए साल यानी 2023 में चांदी की कीमत नया रिकॉर्ड बना सकती है।

इन वजहों से बढ़ रही चांदी की कीमत

चांदी की वैश्विक मांग इस साल रिकॉर्ड 1.21 अरब औंस के करीब पहुंची।

न्यूयॉर्क के कॉमेक्स की इन्वेंट्री 70% गिरकर 10 लाख टन के करीब रह गई।

लंदन बुलियन मार्केट एसो. का भंडार नवंबर में 27.1 हजार टन रह गया।

भारत में खरीदारों ने कम कीमतों का लाभ उठाकर अपना भंडार भर लिया।

रिकॉर्ड मांग के बीच सप्लाई कि किल्लत ने चांदी की कीमतों को हवा दे शेयर बाजार में उछाल दी।

चांदी की वैश्विक मांग इस साल नए रिकॉर्ड पर : अनुज गुप्ता

ब्रोकरेज फर्म आईआईएफएल सिक्युरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता कहते हैं, चांदी की वैश्विक मांग इस साल 1.21 अरब औंस के नए रिकॉर्ड पर पहुंचने की उम्मीद है। यह साल 2021 की तुलना में 16% अधिक है। चांदी में भौतिक निवेश की मांग पिछले वर्ष की तुलना में 18% की वृद्धि के साथ 32.9 करोड़ औंस तक बढ़ने की उम्मीद है। चांदी की औद्योगिक मांग 53.9 करोड़ औंस पहुंच गई है, जो कि नया रिकॉर्ड है।

खुदरा निवेशकों की ओर से चांदी की फिजिकल मांग भी इस साल मजबूत रही है। चांदी के गहनों और बर्तनों की मांग रिकॉर्ड ऊंचाई पर है। इस साल चांदी के गहने की मांग 23.5 करोड़ औंस और चांदी के बर्तन की मांग 7.3 करोड़ औंस पर पहुंच गई। यह पिछले साल की तुलना में क्रमश: 29% और 72% अधिक है। चांदी की रिकॉर्ड मांग इसकी कीमतों को पर लगा रही है।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चांदी की किल्लत प्रमुख कारण : अजय केडिया

कमोडिटी एडवायजरी फर्म केडिया एडवायजरी के निदेशक अजय केडिया तेज मांग के बीच अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चांदी की किल्लत को कीमतों में तेजी का कारण मानते हैं। केडिया कहते हैं, पिछले 18 महीनों में न्यूयॉर्क के कॉमेक्स की इन्वेंट्री 70% गिरकर 10 लाख टन से कुछ ही अधिक रह गई है। इसके अलावा, लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन का भंडार नवंबर में लगातार 10वें महीने गिरकर 27.1 हजार टन रह गया, जो रिकॉर्ड कम है। भारत में भी 2022 में चांदी की मांग लगभग दोगुनी हो गई, शेयर बाजार में उछाल क्योंकि खरीदारों ने 2020 और 2021 में कम कीमतों का लाभ उठाकर अपना भंडार भर लिया। रिकॉर्ड मांग के बीच सप्लाई कि किल्लत ने चांदी को शेयर बाजार में उछाल सोने की तुलना में अधिक तेजी प्रदान की है।

औद्योगिक जिंस के कारण चांदी की मांग मजबूत : कोलिन शाह

जेम्स ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल के पूर्व चेयरमैन और कामा ज्वेलरी के प्रबंध निदेशक कोलिन शाह के मुताबिक, औद्योगिक जिंस होने के कारण चांदी की मांग मजबूत बनी हुई है। 5जी प्रौद्योगिकी, सौर ऊर्जा, और ईवी की बढ़ती मांग से 2023 में भी चांदी की ऊंची मांग बनी रहेगी। हालांकि, 2023 में चांदी की नई ऊंचाई हासिल करने के लिए पहले मार्च 2022 के उच्च स्तर ($24) और फिर अगस्त 2020 के उच्च स्तर ( $28) को पार करना महत्वपूर्ण है। ये स्तर प्रमुख प्रतिरोध स्तरों के रूप में कार्य करेंगे।

Stock Market: शेयर बाजार हुआ धड़ाम, आने वाले समय में और आ सकती है गिरावट

नेहा दुबे

Reported By: |नेहा दुबे | Updated: Dec 21, 2022, 06:20 PM IST

Stock Market: शेयर बाजार हुआ धड़ाम, आने वाले समय में और आ सकती है गिरावट

डीएनए हिंदी: शेयर बाजार में लगातार वोलाटिलिटी बनी हुई है. बाजार में दो दिन की बिकवाली के बाद मंगलवार को थोड़ी तेजी देखने को मिली थी. आज यानी कि बुधवार को बाजार हरे निशान पर खुला था. लेकिन बंद होने तक शेयर बाजार बुरी तरह धड़ाम हो गया. आज शेयर बाजार में काफी बिकवाली देखने को मिली. सेंसेक्स आज 635.05 पॉइंट टूटकर 61,067.24 पॉइंट पर आखिरी ट्रेडिंग करता हुआ दिखा. वहीं NSE निफ्टी 186.20 पॉइंट गिरकर 18,199.10 पॉइंट पर बंद हुआ. आज सभी सेक्टर्स में जमकर बिकवाली हुई. बैंकिंग, FMCG, फार्मा, मेटल और ऑटो सेक्टर में 2 से 3 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई.

बाजार ने अपना सपोर्ट खोया

एक्सपर्ट्स के मुताबिक बाजार में हुई इस गिरावट ने बाजार के सेंटिमेंट को बुरी तरह तोड़ दिया है. एक्सपर्ट्स की मानें तो दुनिया भर में अचानक से कोरोना (Covid-19) के मामलों में उछाल आने से बुरी तरह बाजार का सपोर्ट प्रभावित हुआ है. इसकी वजह से हेल्थकैयर समेत आईटी सेक्टर्स में बुरी तरह गिरावट दर्ज की गई है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि गुरुवार को भी बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है. अभी बाजार और भी नीचे जा सकता है.

मंगलवार को बाजार में गिरावट आने से जहां निवेशकों को 51 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था. वहीं आज निवेशकों 4.47 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. मंगलवार को कंपनियों का मार्केट कैप 2,87,39,958 करोड़ रुपये था. वहीं आज यानी कि 21 दिसंबर को घटकर यह मार्केट कैप 2,82,91,970 करोड़ रुपया हो गया है. पिछले छह दिनों में लगभग निवेशकों को 7 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ हो.

कौन शेयर बाजार में उछाल सी कंपनियों में रही तेजी

सेंसेक्स में एचसीएल टेक्नोलॉजीज (HCL Technologies), सन फार्मा (Sun Pharma), महिंद्रा एंड महिंद्रा (M&M), एशियन पेंट्स (Asian Paints), विप्रो (Wipro), टेक महिंद्रा (Tech Mahindra), टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), एक्सिस बैंक (Axis Bank), इंफोसिस (Infosys), हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL), एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) और अल्ट्राटेक सीमेंट (Ultratech Cement) के शेयर शेयर बाजार में उछाल में बढ़ोतरी देखने को मिली. वहीं इंडसइंड बैंक (Indusind Bank), बजाज फिनसर्व (Bajaj Finserv), मारुति (Maruti), टाटा मोटर्स (Tata Motors), भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) में गिरावट देखी गई.


देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के शेयर बाजार में उछाल लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगल, फ़ेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Share Market Update Today: कोरोना के नए वैरिएंट से सहमा बाजार, 254 अंक लुढ़कर 60812 के स्तर पर हुआ बंद

Share Market Update Today: कारोबार में इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी लाल निशान पर बंद हुए। वहीं, अमेरिकी बाजारों में खरीदारी का दौर जारी रहा। बुधवार को अमेरिकी बाजार हरे निशान पर बंद हुए।

Viren Singh

Share Market Update Today

Share Market Update Today (सोशल मीडिया)

Share Market Update Today: भारत सहित कई देशों में कोरोना के नए वैरिएंट के केस आने से घरेलू बाजार सहम गया है। कारोबार में आज तगड़ी बिकवाली देखने को मिली। हफ्ते के चौथे कारोबारी दिन यानी गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार में अच्छी गिरावट देखने को मिली। बाजार के दोनों इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी लाल निशान पर बंद हुए। हालांकि इससे पहले सुबह शेयर बाजार उछाल पर खुले थे,लेकिन शाम के वक्त हुई शेयरों में बिकवाली ने बाजार को लाल निशान पर क्लोजिंग कराई। शाम को 3.30 बजे बीएसई का सेंसेक्स 254.58 अंक या 0.42 फीसदी की गिरावट के साथ 60,812.66 के स्तर पर जाकर बंद हुआ। इसी तरह, एनएसई का निफ्टी 85.25 अंक या 0.47 फीसदी की गिरावट के साथ 18,113.85 के स्तर पर जाकर बंद हुआ। शाम को सेंसेक्स के 30 शेयर में से 24 शेयर लाल निशान पर बंद हुए,जबकि मात्र 6 शेयर ही बढ़त पर रहे।

सारे इंडेक्स गिरावट पर बंद

गुरुवार को बाजार में हर तरफ बिकवाली छाई रही। निफ्टी के सारे प्रमुख इंडेक्स लाल निशान पर बंद हुए। इसमें सबसे अधिक गिरावट ऑटो इंडेक्स में रही और यह 1.11 फीसदी तक टूटे। इसके अलावा आईटी इंडेक्स फ्लैट पर बंद हुए,जबकि बैंक, फार्मा, एफएमजीसी और फाइनेंशियल इंडेक्स भी लाल निशान पर बंद हुए। इन सभी इंडेक्सों में आधे फीसदी से अधिक गिरावट रही। वहीं मेटल, मीडिया और रियल्टी इंडेक्स भी लाल निशान पर बंद हुए।

टॉप गेनर्स व लूजर्स

गुरुवार को टॉप गेनर्स की लिस्ट में UltraTech Cem., SBI Life, Infosys, Grasim Inds., Kotak Bank, Asian Paints और Sun Pharma वाली कंपनियां रहीं। जबकि टॉप लूजर्स की लिस्ट में UPL, M&M, Bajaj Finserv, Eicher Motors, Tata Motors, BPCL और IndusInd Bank हैं।

एशियाई बाजारों में रौनक

गुरुवार को प्रमुख एशियाई बाजारों में खरीदारी का माहौल देखने मिला। SGX Nifty 0.57 फीसदी की तेजी रही तो निक्‍केई 0.40 फीसदी की बढ़त पर रहे। इसके अलावा स्‍ट्रेट टाइम्‍स 0.55 फीसदी, हैंगसेंग 2.79 फीसदी और ताइवान वेटेड 1.26 फीसदी की बढ़त पर रहे। वहीं, कोस्पी 0.83 फीसदी और शंघाई कंपोजिट 0.55 फीसदी की बढ़त पर कारोबार किया।

अमेरिकी बाजारों में रही खरीदारी

अमेकिरी शेयर बाजार खरीदारी का दौर जारी है। बुधवार को भी बाजार बढ़त पर बंद हुए। Dow Jones 526.74 अंक की तेजी के साथ 33,376.48 के स्तर पर बंद हुआ। S&P 1.49 फीसदी बढ़त की बढ़त पर बंद हुआ। Nasdaq 1.54 फीसदी की तेजी रही और यह 10,709.37 के स्तर पर जाकर कारोबार खत्म किया।

Share Market : कोरोना मामलों की दस्तक से हिला शेयर बाजार ! सेंसेक्स, निफ्टी में एक प्रतिशत की गिरावट

मुंबई। चीन में कोविड महामारी का प्रकोप तेज होने और दुनिया के अन्य देशों में भी संक्रमण बढ़ने के बीच बुधवार को प्रमुख शेयर सूचकांक.. सेंसेक्स और निफ्टी कारोबार के अंत में करीब एक प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुए। इस दौरान 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 635.05 अंक या 1.03 प्रतिशत गिरकर 61,067.24 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में सेंसेक्स 763.91 अंक या 1.23 प्रतिशत गिरकर 60,938.38 अंक पर आ गया था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 186.20 अंक या 1.01 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18,199.10 अंक पर बंद हुआ।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, चीन के विभिन्न शहर वर्तमान में कोविड के अत्यधिक संक्रामक स्वरूप ओमीक्रॉन, ज्यादातर बीएफ.7, की चपेट में हैं, शेयर बाजार में उछाल जो बीजिंग में फैलने वाला मुख्य स्वरूप है। इसी के कारण चीन में कोविड संक्रमण के मामलों में व्यापक उछाल आया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कोविड समीक्षा बैठक में विशेषज्ञों ने कहा कि हालांकि अभी तक कोविड मामलों की संख्या में समग्र वृद्धि नहीं हुई है, लेकिन मौजूदा और उभरते स्वरूपों पर नज़र रखने के लिए निरंतर निगरानी की आवश्यकता है। सेंसेक्स के शेयरों में इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व, मारुति, अल्ट्राटेक सीमेंट, टाटा मोटर्स, एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक नुकसान में रहे। दूसरी ओर सन फार्मा, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, टेक महिंद्रा, नेस्ले, विप्रो और इन्फोसिस के शेयर लाभ में रहे।

अन्य एशियाई बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और चीन का शंघाई कम्पोजिट नुकसान में रहे। हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहा। यूरोपीय बाजार दिन में कारोबार के दौरान लाभ में थे। अमेरिकी बाजार मंगलवार को बढ़त के साथ बंद हुए थे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ”घरेलू बाजार में मंदड़ियों की पकड़ मजबूत रही, जबकि वॉल स्ट्रीट ने अमेरिकी जीडीपी के आंकड़े जारी होने से पहले गिरावट के रुख को तोड़ दिया। कोविड महामारी के प्रकोप से डरकर फार्मा क्षेत्र में तेजी रही, हालांकि अन्य सभी क्षेत्रों में गिरावट हुई। आईटी शेयरों में भी खरीदारी हुई।’’ मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि शेयर बाजार में उछाल बुधवार के सत्र में फार्मा और डायग्नोस्टिक से संबंधित शेयर सुर्खियों में थे और उम्मीद है कि इनकी गति बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि दूसरी ओर शेयर बाजार में उछाल यात्रा और पर्यटन, होटल, एयरलाइंस, मनोरंजन और खुदरा कारोबार जैसे क्षेत्रों में कुछ दबाव देखा जा सकता है। बाजार में उतार-चढ़ाव जारी रहेगा।

बीएसई स्मॉलकैप में 2.18 प्रतिशत और मिडकैप में 1.40 प्रतिशत की गिरावट हुई। क्षेत्रवार बात करें तो उपयोगिता शेयरों में 2.50 प्रतिशत, बिजली में 2.40 प्रतिशत, सेवा क्षेत्र में 2.34 प्रतिशत, दूरसंचार में 2.32 प्रतिशत, औद्योगिक क्षेत्र में 2.13 प्रतिशत और जिंस में 1.91 प्रतिशत की गिरावट हुई। स्वास्थ्य देखभाल और आईटी शेयर मुनाफे में रहे। एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा कि प्रमुख सूचकांक चीन और अन्य स्थानों पर कोविड संक्रमण फैसले से दबाव में आ गए। अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 1.08 प्रतिशत चढ़कर 80.85 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर था। शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने मंगलवार को शुद्ध रूप से 455.94 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।

कोरोना की आहट से शेयर बाजार की फ्लैट ओपनिंग, सेंसेक्स 189 अंक उछला, निफ्टी 64 अंक चढ़ा

शेयर बाजार में तेजी, सेंसेक्स 124 अंक मजबूत, निफ्टी 17200 के पार, विप्रो टॉप गेनर

LagatarDesk : कोरोना की आहट से सप्ताह के चौथे कारोबारी दिन शेयर बाजार में उछाल यानी गुरुवार को शेयर बाजार की फ्लैट ओपनिंग हुई. शेयर बाजार बाजार हल्की तेजी के साथ खुला. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों इंडेक्स आज हरे निशान पर ट्रेड कर रहे हैं. सेंसेक्स 61250 और निफ्टी 18250 के पार ट्रेड कर रहा है. सेंसेक्स 189.67 अंक उछलकर 61256.91 के लेवल पर शुरू हुआ है. वहीं निफ्टी 64.35 अंकों की मजबूती के साथ 18263.4 के स्तर पर खुला है. (पढ़ें, आज से अनिश्चितकालिन भूख हड़ताल पर जायेंगे कम्यूनिटी हेल्थ की पढ़ाई कर चुके छात्र)

समफार्मा के शेयरों में 0.95 फीसदी की बढ़त

आज के कारोबार में 30 शेयरों वाले सेंसेक्स के 27 शेयर हरे निशान पर नजर आ रहे हैं. जबकि 3 शेयर लाल निशान पर नजर आ रहे हैं. बीएसई सेंसेक्स में लिस्टेड समफार्मा के शेयरों में 0.95 फीसदी की बढ़त देखने को मिल रही है. जबकि लार्सन के शेयरों में 0.26 फीसदी की गिरावट देखी जा रही है.

ये हैं आज के टॉप गेनर और टॉप लूजर

आज के टॉप गेनर की लिस्ट में सनफार्मा, भारती एयरटेल, एचसीएल टेक, आईसीआईसीआई बैंक और इंफोसिस के शेयर शामिल हैं. जबकि टॉप लूजर की श्रेणी में लार्सन, एक्सिस बैंक और एनटीपीसी के शेयर शामिल हैं.

लगातार को पढ़ने और बेहतर अनुभव के लिए डाउनलोड करें एंड्रॉयड ऐप। ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

बीएसई सेंसेक्स के इन शेयरों में बढ़त

बीएसई सेंसेक्स में लिस्टेड बजाज फाइनेंस, एसबीआई, टाटा स्टील, रिलायंस, टेक महिंद्रा, कोटक महिंद्रा, एचयूएल, विप्रो, टाइटन और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर तेजी के साथ कारोबार कर रहे हैं. इसके अलावा एशियन पेंट्स, आईटीसी, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, टीसीएस, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, पावरग्रिड और बजाज फिनसर्व के शेयर भी हरे निशान पर नजर आ रहे हैं.

कोरोना की खबर से सेंसेक्स और निफ्टी भारी गिरावट के साथ हुआ बंद

बता दें कि दुनियाभर में कोरोना के मामलों में अचानक उछाल आया है. इसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी दिखायी देवने लगा है. सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन शेयर मार्केट हरे निशान पर खुला. सेंसेक्स 290 अंकों की तेजी के साथ 61992 के लेवल पर शुरू हुआ. जबकि निफ्टी 50 अंकों की तेजी के साथ 18435 के लेवल पर खुला. लेकिन यह तेजी ज्यादा देर जारी नहीं रह सकी. जैसे-जैसे चीन समेत दूसरे देशों में कोविड़ के बेकाबू होने की खबरें आयी, ये गिरावट आती चली गयी. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 635.05 अंक फिसलकर 61,067.24 के स्तर पर बंद हुआ था. जबकि निफ्टी 179.70 अंक टूटकर 18,205.60 के स्तर पर बंद हुआ था.

रेटिंग: 4.94
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 606