इसलिए परंपरा है कि इस एक घंटे के मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन में निवेशक अपने पसंदिदा शेअर्स खरीदते हैं और लंबे समय तक इसमें निवेशित रहते हैं। नये निवेशकों के लिए स्टॉक मार्केट में निवेश करने का यह एक अच्छा समय माना जाता है

मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए एक घंटे खुला बाजार: सेंसेक्स 525 अंक चढ़ा, निफ्टी 17700 के ऊपर बंद; ICICI बैंक और नेस्ले टॉप गेनर्स रहे

दिवाली को धन, समृद्धि और सौभाग्य का त्योहार माना जाता है। यह अंधकार पर प्रकाश की, अज्ञान पर ज्ञान की और बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। किसी भी धार्मिक त्योहार की तरह, दीवाली पर भी कई मान्यताएं, रीति-रिवाज और परंपराएं है। ऐसी ही एक परंपरा है "मुहूर्त ट्रेडिंग"। इसके लिए शेयर बाजार आज शाम 6:15 बजे से शाम 7:15 बजे तक खुले।

मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन में सेंसेक्स 525 अंक चढ़कर 59,832 अंक पर बंद हुआ तो निफ्टी में 154 अंक की तेजी देखी गई। ये 17731 के स्तर पर बंद हुआ। FMCG को छोड़ सभी सेक्टर्स में खरीदारी नजर आई। निफ्टी बैंक इंडेक्स में सबसे ज्यादा 1.28% की तेजी दर्ज की गई। 30 शेयरों वाले बीएसई सेंसेक्स में 28 बढ़त में बंद हुए जबकि दो लाल निशान में रहे। वहीं निफ्टी 50 इंडेक्स के 47 स्टॉक बढ़कर बंद हुए, जबकि तीन में गिरावट देखी गई।

क्‍या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग, दिवाली के दिन क्‍यों कुछ देर की लिए खुलता है शेयर बाजार? जानें डिटेल

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - November 3, 2021 / 08:09 PM IST

क्‍या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग, दिवाली के दिन क्‍यों कुछ देर की लिए खुलता है शेयर बाजार? जानें डिटेल

image: pixabay, सरकार ने बैड बैंक के गठन, पीएलआई योजनाओं को शुरू करने, दूरसंचार क्षेत्र में सुधार और कृषि कानूनों जैसी कई पहलों के साथ एक मजबूत व्यापार समर्थक मानसिकता दिखाई है.

दिवाली के दिन यानी 4 नवंबर को शेयर बाजार बंद रहेगा. लेकिन एक घंटे के लिए ट्रेडिंग होगी. क्योंकि इस दिन से नए साल की शुरुआत मानी जाती है और नए साल पर किसी भी काम को करना शुभ माना जाता है. इसलिए हर साल की तरह इस बार भी दिवाली के ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है दिन मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading 2021) का आयोजन किया जाएगा. शाम को होने वाली इस ट्रेडिंग में निवेशक शेयर खरीदते हैं.

जानें शाम को कब खुलेगा शेयर बाजार

दिनभर शेयर बाजार बंद होने के बाद शाम को एक घंटे के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग का आयोजन होगा. इस बार दीपावली के दिन NSE और BSE पर शाम 6:15 से 7:15 मुहूर्त ट्रेडिंग होगी. जबकि 4 नवंबर को शाम 6:00 से 6:08 बजे प्री-ओपन ट्रेड होगा. मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान शेयर बाजार में निवेश को शुभ माना जाता है. इस एक घंटे के मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान ज्यादातर निवेशक शेयर खरीदते हैं.

बता दें कि हर साल मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए एक खास समय तय होता है. निवेशक इस समय वैल्यू बेस्ड स्टॉक खरीदते हैं, और उसे लंबे समय तक रखते हैं. वहीं कई लोग इस खास ट्रेडिंग सेशन के दौरान शेयर बाजार में अपना पहला निवेश करते हैं.ऐसा माना जाता है कि इस मौके पर किया गया निवेश फायदा देता है. मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा लंबे समय से चली आ रही है. बीएसई (BSE) पर पहली बार साल 1957 में ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है और एनएसई (NSE) में साल 1992 से मुहूर्त ट्रेडिंग की शुरुआत हुई थी.

मुहूर्त ट्रेडिंग स्पेशल सेशन: शेयर बाजार ने लगाई लंबी छलांग, ऑल टाइम हाई पर बंद हुआ सेंसेक्स

मुहूर्त ट्रेडिंग स्पेशल सेशन: शेयर बाजार ने लगाई लंबी छलांग, ऑल टाइम हाई पर बंद हुआ सेंसेक्स

मुहूर्त ट्रेडिंग पर शेयर बाजार में रिकॉर्ड कारोबार हुआ. बीएसई का सेंसेक्स नया रिकॉर्ड बनाते हुए ऑल टाइम हाई पर बंद हुआ. सेंसेक्स 194.98 अंक चढ़कर 43,637.98 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ. तो वहीं एनएसई का निफ्टी भी 50 अंकों की तेजी के साथ 12770 के स्तर पर बंद हुआ. एक घंटे की स्पेशल ट्रेडिंग के दौरान सेंसेक्स 43830 के अपने उच्चतम स्तर और निफ्टी 12828 के स्तर तक पहुंचा.

क्या होता है मुहूर्त ट्रेडिंग

दिवाली के दिन कारोबारी अपना कारोबार बंद नहीं करते बल्कि मां लक्ष्मी की अराधना करते है. माना जाता है कि दिवाली के दिन से ही हिंदू लेखा वर्ष संवत की शुरुआत होती है और कारोबारी इस दिन अपने बहीखाते की पूजा करते हैं. शेयर बाजार में भी ब्रोकर मुहूर्त ट्रेडिंग से पहले बहीखातों की पूजा करते हैं जिसे ‘चोपड़ा पूजा’ कहते हैं. इसलिए दिवाली के दिन शेयर बाजार को शाम में एक घंटे के लिए खास खोला जाता है. कारोबार के इस समय को मुहूर्त ट्रेडिंग का नाम दिया गया है.

भारतीय शेयर बाज़ार : कल होगी मुहर्त ट्रेंडिंग | जानिए मुहूर्त ट्रेडिंग क्या होता क्या कल के दिन निवेश करना चाहिए।

सोमवार को भारतीय बाजारों में NSE और BSE में होगा एक घंटे का कारोबर : सोमवार को दिवाली का पर्व है इस दिन भारतीय बाजारों में एक घंटे के लिए मुहर्त ट्रेडिंग होगी ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है | मुहरत ट्रेडिंग में भारतीय बाजार एक घंटे के लिए शाम को खुलेंगे जिसमे निवेशक लम्बी अवधि के लिए खरीदी करेंगे ऐसी मान्यता है कि दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान निवेश करने से समृद्धि आती है और पूरे साल इन्वेस्टर्स पर धन बरसता है.

मुहूर्त ट्रेडिंग क्या होता –

दिवाली का उत्सव शेयर बाजार के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। इस मौके पर निवेश करना शुभ होता है और माना जाता है कि इससे घर और व्यापार में भी समृद्धि बढ़ती है। इस कारण दिवाली पर छुट्टी के कारण पूरे दिन बंद रहता है लेकिन शाम हो पूजन के समय शेयरों की खरीद और बिक्री करने के लिए शेयर बाजार को करीब एक घंटे के लिए खोला जाता है। इसे ही मुहूर्त ट्रेडिंग कहते हैं।

पहले से चली आ रही इस परंपरा को जारी रखते हुए इस बार दिवाली के दिन 24 अक्टूबर को भी मुहूर्त ट्रेडिंग का सेशन रखा गया है, जिसमें आप शेयरों की खरीद और बिक्री कर सकते हैं।

दिवाली का पर्व हिंदू नव वर्ष कैलेंडर की शुरुआत का प्रतीक है. पूरे भारत में इस उत्सव को धन, समृद्धि और सौभाग्य के स्वागत के लिए सबसे शुभ समय माना जाता ..ऐसे में शेयर बाजार इन्वेस्टर्स (Share Bazar Investors) भी इस दिन को निवेश की शुरुआत करने के लिए बेहद खास मानते हैं और एक घंटे की मुहूर्त ट्रेडिंग में जमकर दांव लगाते हैं. निवेशकों का मानना है कि इस दिन इन्वेस्टमेंट करके पूरी साल फायदा होता है.

मुहूर्त ट्रेडिंग का समय

24 अक्टूबर 2022 को दिवाली के दिन देश के दोनों बड़े एक्सचेंज एनएसई और बीएसई पर मुहूर्त ट्रेडिंग का समय शाम 6:15 से 7:15 बजे तक का रखा गया है। इस दिन ब्लॉक डील सेशन को शाम 5:45 बजे से 6:00 बजे तक, प्री ओपन ट्रेडिंग सेशन को शाम 6:00 बजे से 6:08 ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है बजे तक, नॉर्मल मार्केट शाम 6:15 से 7:15 बजे तक, कॉल ऑशन सेशन 6:20 से 7:05 बजे तक और क्लोजिंग सेशन 7:25 से 7:35 बजे तक रहेगा।

जी बिलकुल कल के दिन फंडामेंटल मजबूत स्टॉक और सही वैल्यूएशन वाले स्टॉक में लम्बी अवधि के लिए निवेश करना चाहिए
निवेश करने से पहले स्टॉक की पूरी जानकारी ले लेवे और पता करे कंपनी किस सेक्टर में काम करती है

Muhurat trading 2022 Date और Timeing

इस साल दिवाली मुहूर्त ट्रेडिंग 24 अक्टूबर 2022 को होने वाली है। BSE और NSE कि नोटिस के अनुसार इस साल 24 अक्टूबर को शाम 6.15pm से 7.15 के बिच एक घंटे का मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन होगा।

प्री-ओपन सेशन शाम 6:00 बजे शुरू होगा और शाम 6:08 बजे तक चलेगा। इसके बाद 6.15PM से 7.15PM के बिच मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन होगा। जिसमें आपको ट्रेडिंग करने का मौका मिलेगा और बाद में 7.15 बजे मार्केट बंद हो जाएगा।

यहां पर ध्यान रखें कि 7.15PM से पहले अपनी पोजीशन बंद करें क्योंकि इसके बाद ट्रेडिंग करने का टाईम बंद हो जाएगा।

Muhurat Trading कि विशेषताएं

  • मुहूर्त ट्रेडिंग सिर्फ एक घंटे के लिए कि जाती है।
  • दिवाली के दिन छुट्टी होने के बावजूद शेअर मार्केट मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए खुलता है।
  • मुहूर्त ट्रेडिंग का टाईम ज्योतिष शास्त्र के ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है अनुसार तय किया जाता है।
  • मुहूर्त ट्रेडिंग में किया गया निवेश शुभ माना जाता है।

हिंदू धर्म में किसी काम को करने से पहले अच्छा शुभ मुहूर्त देखकर करने कि परंपरा है। इसी परंपरा के तहत दिवाली के दिन शेअर मार्केट में निवेश करने कि परंपरा चली आ रही है।

भारत में, स्टॉक एक्सचेंजेस द्वारा मुहूर्त ट्रेडिंग का संचालन अब करीब 50 वर्षों से किया जा रहा है। Muhurat Trading कि शुरुआत सबसे पहले BSE पर 1957 में हुई थी। इसके बाद NSE ने भी 1997 में मुहूर्त ट्रेडिंग कि शुरुआत की। तब से लेकर अब दोनों स्टॉक एक्सचेंजों पर हर साल दिवाली में एक घंटे की Muhurat trading का आयोजन किया जाता है।

आप मुहूर्त ट्रेडिंग से कैसे लाभ उठा सकते है।

दिवाली में लक्ष्मी पूजन का समय बहुत हि शुभ होता है। इस समय किया ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है गया निवेश लंबे समय तक अच्छा रिटर्न देने वाला माना जाता है।

इसलिए मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन में ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है हमें अच्छे और मजबूत कंपनियों के शेअर्स में निवेश करना चाहिए। मुहूर्त ट्रेडिंग का समय एक मोका ट्रेडिंग सेशन के दौरान क्या होता है होता है निवेशको को अपने निवेश का पुनः विचार करने का।

इस दिन आप अपने Portfolio में से बेकार के शेअर्स को बेचकर कुछ नए शेअर्स खरीद सकते है। यानी आप portfolio diversification कर सकते है।

ध्यान रखें कि यह ट्रेडिंग सेशन सिर्फ एक घंटे के लिए ओपन होता है। इसलिए आप अपना पुरा ट्रेडिंग प्लान पहले से तैयार रखें।

muhurat trading उन लोगों के लिए भी एक अच्छा समय है जो स्टॉक मार्केट में पहली बार निवेश करने का विचार कर रहे हैं। स्टॉक मार्केट में निवेश करने कि शुरुआत Zerodha में Demat Account खोलकर कर सकते हैं। Zerodha इंडिया का नं १ स्टॉक ब्रोकर है।

निष्कर्ष

भारत में मुहूर्त ट्रेडिंग 50 सालों से चली आ रही एक परंपरा है। जिसमें निवेशक लक्ष्मी पूजन के समय अपने पैसों को स्टॉक मार्केट निवेश करना शुभ मानते है। इसके साथ ही नए निवेशकों के लिए शेअर मार्केट में शुरुआत करने का यह एक शुभ समय हो सकता है।

आपको दिवाली और मुहूर्त ट्रेडिंग कि शुभकामनाएं!

F&Q

मुहूर्त ट्रेडिंग एक घंटे के लिए होती है।

24 अक्टूबर 2022 को सोमवार शाम 6.15pm से 7.15pm के बिज में 2022 कि muhurat trading होने वाली है।

हर वो भाग ले सकता है जिसके पास Demat Account है।

हां! आप मुहूर्त ट्रेडिंग में इंट्राडे कर सकते है।

Open a Demat account with zerodha and upstox and start your investment journey today!

रेटिंग: 4.86
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 726