LIC की इस स्कीम से होगा जबरदस्त लाभ, रोज के 200 रुपए निवेश करने पर मिलेंगे 28 लाख, बस करना होगा ये काम

अगर आप भी निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद खास है। आज हम आपको LIC की एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें निवेश कर आप मोटा मुनाफा कमा सकते हैं। आइए नीचे खबर में जानते हैं पूरी जानकारी-

Newz Fast,New Delhi अगर आप निवेश करने में दिलचस्पी रखते हैं तो आप एलआईसी की इस बीमा योजना में निवेश करके अच्छा रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं. क्योंकि देश की सबसे बड़ी सरकारी बीमा कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (Life Insurance Corporation) हर वर्ग के लोगों के लिए बीमा योजना (Insurance Scheme) पेश करती है.

इसमें सुरक्षा के साथ ही निवेश का भी विकल्प मिलता है और मैच्योरिटी पूरा होने पर एक अच्छी रकम प्रदान की जाती है. भारतीय इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ जीवन बीमा निगम की जीवन प्र​गति बीमा योजना (LIC Jeevan Pragati Bima Yojana) आपको कुछ सालों में लखपति बना सकती है. इसमें आप हर रोज 200 रुपये जमा करके मैच्योरिटी पर 28 लाख रुपये तक की रकम जुटा सकते हैं.

अगर आप एलआईसी में निवेश का प्लान बना रहे हैं तो जीवन प्रगति प्लान खरीद सकते हैं.LIC की जीवन प्र​गति बीमा प्लान में निवेश करने पर लोगों को लाइफटाइम सुरक्षा दी जाती है.

साथ ही प्रतिदिन के हिसाब से इसमें 200 रुपये का निवेश किया जाता है तो महीने में इस योजना के तहत 6 हजार रुपये जमा होंगे. इसका मतलब है कि सालाना 72 हजार रुपये जमा होंगे. फिर 20 साल पूरे होने पर बोनस के साथ इस योजना में आपको 28 लाख रुपये​ मिलेंगे.

इस बीमा योजना में रिस्क कवर हर पांच साल में बढ़ रहता है. इसका मतलब है कि हर पांच साल के बीमा अमाउंट बढ़ जाएगा. डेथ बेनेफिट की बात करें तो पॉलिसी होल्डर की मौत हो जाने के बाद ​बोनस और बीमा राशि जोड़कर उसके परिवार या नॉमिनी को दे दी जाती है.

ये हैं योजना के नियम

एलआईसी की जीवन प्रगति बीमा योजना के तहत न्यूनतम टर्म 12 और 20 साल है.
इस बीमा योजना को 12 से लेकर 45 साल के लोग खरीद सकते हैं.
इस इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ योजना के तहत प्रीमियम की राशि तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर जमा कर सकते हैं.
न्यूनतम सम एश्योर्ड 1.5 लाख और अधिकतम की कोई सीमा नहीं है.

ऐसे मिलेगा बीमा कवरेज

अगर किसी ने इस योजना में 4 लाख रुपये की बीमा पॉलिसी खरीदी है तो पांच साल के बाद यह 5 लाख रुपये हो जाएगी. इसके बाद 10 से 15 साल तक यह 6 लाख रुपये और 20 साल में यह रकम 7 लाख रुपये हो जाएगी. इससे अच्छा मौका आपको कहीं नहीं मिलेगा. इसलिए आप इस योजना का जितने जल्दी से फायदा उठाएंगे तो उतना ही अच्छा रिटर्न मिलेगा.

यहां 10 रुपए का निवेश बना देगा आपको करोड़पति, मिलेंगे अन्य फायदे

iit2

अगर आप भी कम सेविंग करके करोड़पति बनना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए है. क्योंकि आज हम आपको ऐसा इंवेस्टमेंट प्लान बता रहे हैं . जिममें आप मात्र 10 रुपए बचाकर करोड़पति बन सकते हैं. जी हां आज हम यहां सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) की बात कर रहे हैं. जिसके माध्यम से आप छोटी सी बचत इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ के बाद भी मोटा मुनाफा कमा सकते हैं. क्योंकि यह प्लान 18 प्रतिशत तक रिटर्न देता है. सिप से जुड़ने के बाद आप महज 35 साल में 1 करोड़ रुपए के मालिक बन जाएंगे. साथ ही अपने सपनों को साकार कर सकेंगे. आइये जानते हैं क्या है यह शानदार प्लान.

म्यूचुअल फंड दे रहा है शानदार र‍िटर्न
दरअसल, पिछले कुछ सालों में म्यूचुअल फंड ने शानदार र‍िटर्न द‍िया है। यहां तक कि कुछ फंड ने 12 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत तक का रिटर्न दिया है। इस हिसाब से अगर आप हर माह 300 रुपए की म्यूचुअल फंड में SIP लेते हैं तो 35 से 40 साल में 5 करोड़ का फंड तैयार कर सकते हैं। अपनी जरूरतों को पूरा करते हुए अपने भविष्य को संवार सकते है। एसआईपी निर्धारित दिन आपकी पसंदीदा म्यूचुअल फंड स्कीम में पहले से तय राशि बैंक खाते से लेकर निवेश कर देता है। शेयर बाजार में तेजी है या मंदी इसका कोई र्फक नहीं पड़ता है। एसआईपी म्यूचुअल फंड में निवेश जारी रखता है। इस प्रकार से धीरे धीरे आपके पास मोटा फंड जमा होता जाएगा।

अलग अलग सेक्टर की कंपनियों में होता है निवेश
एसआईपी में निवेश करने के कई फायदे है. आपको बता दें कि क्योंकि एसआईपी आपके रुपए को अलग अलग सेक्टर की सभी बड़ी कंपनियों में निवेश करता है. आपका पैसा अलग अलग सेक्टर की कंपनियों में निवेश किया जाता है तो इससे आपको काफी मुनाफा होता है. निवेशकों से एक अपील है कि एसआईपी सेबी और एएमएफआई जारी किए गए नियमों को ध्यान पर जरूर पढ़ लें. नहीं तो कई बार नुकसान के भी चांस हैं.

गारंटीड इनकम प्लान और NPS में क्या है बेहतर? जानिए दोनों प्लान से जुड़ी सभी जरूरी बातें

हर नौकरीपेशा व्यक्ति के लिए रिटायरमेंट के बाद के खर्चों की चिंता होती है. इसलिए जरूरी है कि समय रहने उचित व्यवस्था कर ली जाए ताकि आगे चलकर रिटायरमेंट के बाद की जिंदगी में कोई वित्तीय मुश्किलें न उठानी पड़े.

कामकाजी व्यक्तियों के लिए रिटायरमेंट जीवन का एक महत्वपूर्ण चरण है. एक शांतिपूर्ण और तनाव मुक्त जीवन जीने के लिए रिटायरमेंट प्लान में पहले से ही निवेश करना आवश्यक है. एक गारंटीकृत आय योजना और राष्ट्रीय पेंशन योजना दो निवेश विकल्प हैं जो कर-मुक्त निवेश है. इसमें रिटायरमेंट के बाद नियमित आय मिलती है. हालांकि, दोनों के बीच एक प्लान चुनना मुश्किल हो सकता है क्योंकि दोनों योजनाओं के अपने अलग-अलग लाभ और जोखिम हैं. यहां हम दोनों योजनाओं के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दो रहे हैं ताकि आप तय कर सकें कि कौन सा प्लान बेहतर है.

गारंटीड इनकम प्लान एक ट्रेडिशनल प्लान है जो सामान्य बीमा कवरेज के साथ-साथ समय-समय पर भुगतान के रूप में गारंटीकृत आय प्रदान करता है. 18 से 60 वर्ष के आयु वर्ग के सभी व्यक्ति गारंटीड इनकम प्लान खरीद सकते हैं. विभिन्न बीमा कंपनियों ऐसे प्लान ऑफर करती है. गारंटीड इनकम के पे आउट की फ्रीक्वेंसी को पॉलिसी ग्राहक खुद चुन सकता है. इस प्लान में पॉलिसी धारक की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु की स्थिति में मैच्योरिटी प्रोसीड (पॉलिसी अवधि के पूरा होने के बाद) और पे आउट बेनिफिट नॉमिनी को मिलता है.

सम एश्योर्ड मुख्य कॉर्पस का एक प्रतिशत है जो नियमित पे-आउट में प्राप्त होता है. वहीं भुगतान किए गए प्रीमियम पर कर छूट आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी और 10डी के तहत उपलब्ध है. ये छूट पॉलिसी अवधि के पूरा होने के बाद परिपक्वता राशि पर भी उपलब्ध हैं.

नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) भारत सरकार की एक रिटायरमेंट बेनिफिट स्कीम है. यह स्कीम में ग्राहकों को रिटायरमेंट के बाद नियमित आय की सुविधा मिलती है. 18 से 60 वर्ष की आयु का कोई भी भारतीय नागरिक NPS अकाउंट खोल सकता है. NPS अकाउंट तब मैच्योर होता है जब ग्राहक 60 वर्ष का हो जाता है. उसके बाद, ग्राहक कॉर्पस का एक निश्चित प्रतिशत निकाल सकता है और शेष राशि का भुगतान रिटायरमेंट के बाद मासिक पेंशन के रूप में किया जाता है. पेंशन के नियमित भुगतान के लिए कोष का 40 प्रतिशत रखना अनिवार्य है.

एनपीएस में शामिल होने के 10 साल बाद सदस्य आंशिक निकासी कर सकते हैं. एनपीएस में किए गए योगदान पर आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत 1,50,000 रुपए की कर छूट की अनुमति है. इसके अलावा, मौजूदा सीमा से अधिक धारा 80CCD (1B) के तहत 50,000 रुपए तक की अतिरिक्त कर छूट की भी अनुमति है.

यहां 10 रुपए का निवेश बना देगा आपको करोड़पति, मिलेंगे अन्य फायदे

iit2

अगर आप भी कम सेविंग करके करोड़पति बनना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए है. क्योंकि आज हम आपको ऐसा इंवेस्टमेंट प्लान बता रहे हैं . जिममें आप मात्र 10 रुपए बचाकर करोड़पति बन सकते हैं. जी हां आज हम यहां सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) की बात कर रहे हैं. जिसके माध्यम से आप छोटी सी बचत के बाद भी मोटा मुनाफा कमा सकते हैं. क्योंकि यह प्लान 18 प्रतिशत तक रिटर्न देता है. सिप से जुड़ने के बाद आप महज 35 साल में 1 करोड़ रुपए के मालिक बन जाएंगे. साथ ही अपने सपनों को साकार कर सकेंगे. आइये जानते हैं क्या है यह शानदार प्लान.

म्यूचुअल फंड दे रहा है शानदार इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ र‍िटर्न
दरअसल, पिछले कुछ सालों में म्यूचुअल फंड ने शानदार र‍िटर्न द‍िया है। यहां तक कि कुछ फंड ने 12 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत तक का रिटर्न दिया है। इस हिसाब से अगर आप हर माह 300 रुपए की म्यूचुअल फंड में SIP लेते हैं तो 35 से 40 साल में 5 करोड़ का फंड तैयार कर सकते हैं। अपनी जरूरतों को पूरा करते हुए अपने भविष्य को संवार सकते है। एसआईपी निर्धारित दिन आपकी पसंदीदा म्यूचुअल फंड स्कीम में पहले से तय राशि बैंक खाते से लेकर निवेश कर देता है। शेयर बाजार में तेजी है या मंदी इसका कोई र्फक नहीं पड़ता है। एसआईपी म्यूचुअल इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ फंड में निवेश जारी रखता है। इस प्रकार से धीरे धीरे आपके पास मोटा फंड जमा होता जाएगा।

अलग अलग सेक्टर की कंपनियों में होता है निवेश
एसआईपी में निवेश करने के कई फायदे है. आपको बता दें कि क्योंकि एसआईपी आपके रुपए को अलग अलग सेक्टर की सभी बड़ी कंपनियों में निवेश करता है. आपका पैसा अलग अलग सेक्टर की कंपनियों में निवेश किया जाता है तो इससे आपको काफी मुनाफा होता है. निवेशकों से एक अपील है कि एसआईपी सेबी और एएमएफआई जारी किए गए नियमों को ध्यान पर जरूर पढ़ लें. नहीं तो कई बार नुकसान के भी चांस हैं.

गजब का म्यूचुअल फंड: 1 लाख के निवेश को ₹9.78 लाख और ₹10,000 के SIP को ₹6.87 लाख बना दिया

यह स्मॉल-कॉल म्यूचुअल फंड प्लान 15 फरवरी 2019 को लाॅन्च हुआ था जिसके बाद से अपने निवेशकों को शानदार रिटर्न दे रहा है। फंड को वैल्यू रिसर्च द्वारा 5-स्टार रेटिंग दी गई है।

गजब का म्यूचुअल फंड: 1 लाख के निवेश को ₹9.78 लाख और ₹10,000 के SIP को ₹6.87 लाख बना दिया

Mutual fund calculator: म्युचुअल फंड बाजार के जोखिम के अधीन हैं, लेकिन अगर कोई सही योजना का चुनाव करता है तो उसे शानदार रिटर्न मिल सकता है। आज हम आपको एक ऐसे ही प्लान के बारे में बता रहे हैं जिसने अपने निवेशकों को तीन साल में ही तगड़ा रिटर्न दिया है। इस फंड का नाम है केनरा रोबेको स्मॉल कैप फंड- डायरेक्ट प्लान। यह एक स्मॉल-कैप म्यूचुअल फंड प्लान है। यह स्मॉल-कॉल म्यूचुअल फंड प्लान 15 फरवरी 2019 को लाॅन्च हुआ था जिसके बाद से अपने निवेशकों को शानदार रिटर्न दे रहा है। फंड को वैल्यू रिसर्च द्वारा 5-स्टार रेटिंग दी गई है और इसने अपने अपफ्रंट निवेशकों को फिछले तीन सालों में 45 प्रतिशत से अधिक सालाना रिटर्न दिया है।

एसआईपी के जरिए भी निवेश
म्यूचुअल फंड एसआईपी कैलकुलेटर के अनुसार, अगर किसी निवेशक ने तीन साल पहले ₹10,000 का मासिक एसआईपी (SIP) शुरू किया था, तो उसकी पूर्ण राशि लगभग ₹6.87 लाख होगी क्योंकि म्यूचुअल फंड योजना ने पिछले तीन सालों में 46.78 प्रतिशत का वार्षिक रिटर्न दिया है। वहीं, अगर किसी निवेशक ने तीन साल पहले ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसका ₹1 लाख आज ₹9.78 लाख हो जाता।

अपफ्रंट निवेशकों के लिए म्युचुअल फंड रिटर्न
अगर एक निवेशक ने एक साल पहले केनरा रोबेको स्मॉल कैप फंड - डायरेक्ट प्लान में ₹1 लाख का निवेश किया था, तो उसका ₹1 लाख आज ₹2.58 लाख हो जाएगा, जिससे इस अवधि में 23.9 फीसदी वार्षिक रिटर्न मिलेगा। इसी तरह, अगर कोई इस स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड में ₹1 लाख का निवेश करता है, तो उसका ₹1 लाख 44.32 प्रतिशत का वार्षिक रिटर्न निकालने के साथ ₹5.67 लाख हो जाएगा। इसी तरह, अगर किसी अपफ्रंट निवेशक ने तीन साल पहले इस म्यूचुअल फंड में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसके ₹1 लाख का सालाना रिटर्न 45.22 फीसदी होता और यह ₹1 लाख आज ₹9.78 लाख हो जाता।

म्यूचुअल फंड एसआईपी रिटर्न कैलकुलेटर
यदि कोई निवेशक पहले पैसा लगाने में असमर्थ है तो ऐसे निवेशकों के लिए केनरा रोबेको स्मॉल कैप फंड - डायरेक्ट प्लान एसआईपी योजना प्रदान करता है जहां कोई मासिक, त्रैमासिक और अर्ध-वार्षिक मोड में भी निवेश कर सकता है। SIP कैलकुलेटर के अनुसार, अगर किसी निवेशक ने एक साल पहले इस योजना में ₹10,000 का निवेश किया होता तो उसकी कुल राशि ₹1.33 लाख हो जाती, जिससे इस अवधि में 11.23 प्रतिशत पूर्ण रिटर्न और 21.45 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न प्राप्त होता। इसी तरह, अगर किसी निवेशक ने दो साल पहले इस स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट प्लान खरीदने के लाभ प्लान में ₹10,000 का मासिक एसआईपी शुरू किया होता, तो उसका ₹10,000 बढ़कर ₹3.47 लाख हो जाता, जो इस समय में 44.66 प्रतिशत पूर्ण रिटर्न और 40.08 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न मिलता। इसी तरह, अगर किसी निवेशक ने तीन साल पहले इस म्यूचुअल फंड योजना में ₹10,000 का मासिक एसआईपी शुरू किया था, तो उसका ₹10,000 मासिक निवेश आज बढ़कर ₹6.87 लाख हो गया होगा, जिसमें 90.75 प्रतिशत पूर्ण रिटर्न और 46.78 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न प्राप्त होगा।

रेटिंग: 4.94
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 707