यूपी : बरेली के सीबीगंज में खूनी वारदात, प्लाईवुड फैक्ट्री कर्मी की धारदार हथियार से हत्या, पांच घायल

सीबीगंज के नदौसी गांव में रंजिश में खूनी वारदात हो गई। दोनों पक्षों के लोग लाठी-डंडे और तलवार लेकर आमने-सामने आ गये। उन्होंने घेरकर प्लाईवुड फैक्ट्री कर्मी की धारदार हथियार से हत्या कर दी। झगड़े में.

यूपी : बरेली के सीबीगंज में खूनी वारदात, प्लाईवुड फैक्ट्री कर्मी की धारदार हथियार से हत्या, पांच घायल

सीबीगंज के नदौसी गांव में रंजिश में खूनी वारदात हो गई। दोनों पक्षों के लोग लाठी-डंडे और तलवार लेकर आमने-सामने आ गये। उन्होंने घेरकर प्लाईवुड फैक्ट्री कर्मी की धारदार हथियार से हत्या कर दी। झगड़े में पांच लोगों को चोटे आई हैं। सभी का जिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया गया है। थाना सीबीगंज में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

सीबीगंज के नदौसी गांव के रहने वाले नीरज ने बताया कि वह और उनके भाई धीरज गुप्ता प्लाईवुड फैक्ट्री में काम करते हैं। उनके पिता रामबाबू (45) पल्लेदारी करते थे। पिछले दिनों आषाढ़ की पूजा हो रही थी। इस दौरान नीरज ने गांव के ओमकार के निर्माणाधीन मकान विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया के पास एक टायर जला दिया। जिसको लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया। उस समय गांव वालों ने समझा- बुझाकर मामला शांत कर दिया। तभी से दोनों में तनातनी चल रही थी।

मंगलवार रात नीरज ड्यूटी जाने के लिए घर से निकला था। उसकी नाइट ड्यूटी थी। उसे आठ बजे तक फैक्ट्री पहुंचना था। गली में ओमकार, सूरजपाल, तेजपाल, गोविंदा, गोपाल, जमुना प्रसाद घात लगाए बैठे थे। अचानक नीरज के सिर में धारदार हथियार से हमला कर दिया। नीरज घायल हालत में जान बचाकर किसी तरह घर पहुंचा और घटना के बारे में बताया। रामबाबू ओमकार को समझाने के लिए गली में आए तो उन पर भी धारदार हथियार से जानलेवा हमला कर दिया। झगड़े में रामबाबू गंभीर रूप से घायल हो गये।

बीच बचाव में रामबाबू का बेटा धीरज, बेटी रूबी, भतीजा अनुज घायल हो गए। मौका देखकर हमलावर फरार हो गया। सूचना पर सीबीगंज पुलिस मौके पर पहुंच गई। आनन-फानन में सभी घायलों को पुलिस जिला अस्पताल ले गई। यहां डॉक्टरों ने रामबाबू को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिवार में चीख-पुकार मच गई। डॉक्टरों ने अनुज की हालत गंभीर बताकर उसे निजी अस्पताल रेफर कर दिया। शव को मोर्चरी में रखवा दिया।

पुलिस की लापरवाही में अभी रामबाबू की हत्या

नीरज ने चौकी इंचार्ज पर आरोप लगाया कि पहले विवाद हुआ था। मारपीट घटना की तहरीर दी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की जिससे आरोपियों के हौसले बुलंद हो गए। चौकी इंचार्ज को बार बार बता रहे थे कि उन्हें आरोपियों से जान का खतरा है। उसके बाद भी थाने में सुनवाई नहीं हुई। जिस कारण आरोपियों के हौसले बुलंद हो गए और वारदात को अंजाम दिया।

परिवार वालों ने किया जिला अस्पताल में हंगामा

रामबाबू की मौत के बाद परिजनों ने जिला अस्पताल में हंगामा किया। अस्पताल की चौकी पुलिस ने किसी तरह परिजनों को समझा-बुझाकर शांत किया। पुलिस देर रात पंचनामा के कागज तैयार कर शव का पोस्टमार्टम कराने की तैयारी कर रही थी। परिजनों ने आरोपी के खिलाफ हत्या में नामजद तहरीर दी है। मृतक की पत्नी नत्थो देवी का रो रोकर बुरा हाल है।

गुजरात: कृषि रसायन की फैक्ट्री में आग लगने से दो श्रमिकों की मौत, कई ज़ख़्मी

घटना भरुच की है, जहां कृषि रसायन कंपनी यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के झगड़िया संयंत्र में मंगलवार देर रात आग लग गई. पुलिस के अनुसार अभी इसका कारण ज्ञात नहीं हो सका है. दो श्रमिकों के शव बरामद हो चुके हैं और पांच से अधिक लापता हैं. राज्य के श्रम व रोजगार विभाग ने संयंत्र बंद करने का आदेश दिया है.

घटना भरुच की है, जहां कृषि रसायन कंपनी यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के झगड़िया संयंत्र में मंगलवार देर रात आग लग गई. पुलिस के अनुसार अभी इसका कारण ज्ञात नहीं हो सका है. दो श्रमिकों के शव बरामद हो चुके हैं और पांच से अधिक लापता हैं. राज्य के श्रम व रोजगार विभाग ने संयंत्र बंद करने का आदेश दिया है.

Bharuch

नई दिल्ली: कृषि रसायन की प्रमुख कंपनी यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड (यूपीएल) ने मंगलवार को कहा कि उसके गुजरात के भरूच जिले के झगड़िया संयंत्र में भीषण आग लगने से दो कर्मियों की मौत हो गई और 26 अन्य जख्मी हो गए.

कंपनी के मुताबिक, पांच से अधिक कर्मचारी लापता हैं.

यूपीएल ने कहा कि दुर्घटना तरल पदार्थ में आग/विस्फोट की वजह से हुई हो सकती है लेकिन उसने किसी गड़बड़ी की आशंका से इनकार नहीं किया.

इस बीच कंपनी ने कहा कि वह मृतक कर्मियों के परिजनों और प्रभावित कर्मचारियों को मुआवजा देगी.

यूपीएल ने कहा कि गुजरात के झगड़िया इकाई में संयंत्र के बंद रहने के दौरान देर रात भीषण आग लगने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है.

कंपनी ने कहा कि विस्फोट एक संयंत्र में हुआ जो वार्षिक बॉयलर निरीक्षण के लिए पांच फरवरी 2021 से बंद था. विस्फोट के बाद आग लगी.

यूपीएल ने कहा कि संयंत्र के बंद रहने के कारण कोई रासायनिक प्रतिक्रिया नहीं हुई. उसने कहा कि घटना के दौरान या बाद में किसी रसायन या गैस का रिसाव नहीं हुआ.

स्थानीय पुलिस थाने के पुलिस निरीक्षक पीएच वसावा ने बताया कि यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के संयंत्र में देर रात करीब दो बजे विस्फोट के बाद आग लगी.

स्थानीय सूत्रों ने बताया कि बॉयलर में विस्फोट हुआ जबकि पुलिस अधिकारी ने इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं बताया और कहा कि जांच जारी है.

सूत्रों ने बताया कि झगड़िया औद्योगिक क्षेत्र में स्थित इस फैक्ट्री में दवाइयों में इस्तेमाल होने वाले रसायनों का उत्पादन होता है.

वसावा विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया ने बताया, ‘फैक्ट्री के अंदर मलबे में से अब तक दो शव बरामद किए गए हैं. लापता पांच अन्य की तलाश जारी है.’

अधिकारी ने बताया कि धमाका इतना जोरदार था कि उसे घटनास्थल से काफी दूरी पर मौजूद लोगों ने भी सुना.

उन्होंने बताया कि मौके पर दमकल की करीब 15 गाड़ियां भेजी गई हैं और आग पर सुबह साढे छह बजे तक काबू पा लिया गया.

कंपनी ने बताया कि 26 कर्मचारी जख्मी हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिनमें से 15 को छुट्टी दे दी गई है जबकि 11 कर्मी अस्पताल में हैं. किसी की विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया भी स्थिति नाजुक नहीं है.

यूपीएल ने कहा, ‘हमने इस आग के कारणों का पता लगाने के लिए एक विस्तृत जांच करने के लिए एक आंतरिक जांच दल नियुक्त किया है.’

राज्य के श्रम एवं रोजगार विभाग ने संयंत्र को बंद करने का आदेश जारी किया है और कहा है कि वह सभी सुरक्षा पहलुओं का जायज़ा लेगा.

विभाग ने एक विज्ञप्ति में बताया कि उसने फैक्ट्री के मालिक को मृतक कर्मियों के परिजनों को मुआवजा देने का आदेश दिया है.

बता दें इसी महीने की शुरूआत में गुजरात के मेहसाणा जिले में एक रासायनिक संयंत्र में ज़हरीली गैस निकलने से तीन श्रमिकों की मौत हो गई थी.

करेंट अफेयर्स – 14 मई 2022

अंतर्राष्ट्रीय पादप स्वास्थ्य दिवस

संयुक्त राष्ट्र द्वारा नामित अंतर्राष्ट्रीय पादप स्वास्थ्य दिवस (IDPH) हर साल 12 मई को मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य पादप स्वास्थ्य के प्रति वैश्विक जागरूकता को बढ़ाना है, जिससे पर्यावरण की रक्षा के साथ आर्थिक विकास को बढ़ावा दिया सकें। वर्ष 2020 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने अंतर्राष्ट्रीय पादप स्वास्थ्य वर्ष (IDPY) घोषित करने के लिए पारित प्रस्ताव को अपनाया था।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

  • इंसान और प्रकृति दोनों का स्वास्थ्य पौधों पर निर्भर करता है।
  • हमारे द्वारा खाए जाने वाले भोजन का 80% हिस्सा पौधों से आता है।
  • पौधों द्वारा उत्पन्न 98% ऑक्सीजन हमारी श्वसन प्रक्रिया को निर्बाध रखती है।
  • हर साल 40% तक खाद्य फसलें कीटों और बीमारियों के कारण नष्ट हो जाती है।
  • इससे खाद्य सुरक्षा और कृषि दोनों प्रभावित हो रही है, जो ग्रामीण समुदायों के लिए आय का मुख्य स्रोत है।

आईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप – 2022

12वें आईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप का आयोजन दिनांक 8 से 20 मई तक तुर्की के इस्तांबुल में किया जा रहा है। आईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के इस संस्करण में रिकॉर्ड 93 देशों की 400 से अधिक महिला मुक्केबाज भाग ले रही हैं।

इस चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व ओलंपिक खिलाड़ी लवलीना बोरगोहेन कर रही हैं। भारतीय दल में पूजा रानी (81 किग्रा), नंदिनी (+81 किग्रा), निकहत जरीन (52 किग्रा), नीतू (48 किग्रा), अनामिका (50 किग्रा), शिक्षा (54 किग्रा), मनीषा (57 किग्रा), परवीन ( 63 किग्रा) और स्वीटी (75 किग्रा) शामिल है।

IBA से संबंधित महत्त्वपूर्ण जानकारी :

अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (IBA) का गठन वर्ष 1946 में किया गया था। इसका मुख्यालय लुसाने, स्विट्जरलैंड में स्थित है। वर्तमान में IBA के अध्यक्ष उमर नज़रोविच क्रेमलेव हैं। आईबीए द्वारा आयोजित वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप और महिला वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप द्विवार्षिक मुक्केबाजी प्रतियोगिताएँ हैं। पुरुषों के लिए इस प्रतियोगिता का पहली बार विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया आयोजन वर्ष 1974 में और महिलाओं के लिए 2001 में किया गया था। यह मुक्केबाजी में उच्चतम स्तर की प्रतियोगिताएँ हैं।

RailTail ने शुरू की 100 स्टेशनों पर PM-WANI वाई-फाई योजना

हाल ही में माइक्रो रत्न पीएसयू RailTel ने 22 राज्यों के 100 रेलवे स्टेशनों पर अपनी सार्वजनिक वाई-फाई सेवाओं तक पहुँच प्रदान करने के लिए प्राइम मिनिस्टर वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (PM-WANI) योजना शुरू की है। दूरसंचार विभाग (DoT) की पहल PM-WANI का उद्देश्य सार्वजानिक स्थानों पर बेहतर वाई-फाई सुविधा प्रदान करना है।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

  • वाई-डॉट’ एप डाउनलोड के माध्यम से उपयोगकर्ता इस वाई-फाई सुविधा का लाभ ले सकते हैं।
  • यूजर्स को यह एप गूगल प्ले स्टोर पर मिल जाएगा।
  • सॉफ्टवेयर सी-डॉट (C-DOT) के सहयोग से ‘वाई-डॉट’ को विकसित किया गया है।
  • विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया
  • यूजर्स मोबाइल एप से वाई-फाई से जुड़ने के लिए रेल-वायर सर्विस सेट आइडेंटिफायर (SSID) का चयन कर सकते हैं।
  • उपयोगकर्ता वन-टाइम पासवर्ड (OTP) आधारित प्रमाणीकरण को पार करने के लिए वन-टाइम नो योर कस्टमर (KYC) की अनुमति दे कर वाणी-आधारित सार्वजनिक वाई-फाई का उपयोग कर सकेंगे।
  • वर्तमान में रेलटेल का वाई-फाई नेटवर्क देश के 6102 रेलवे स्टेशनों में फैला हुआ है, जिसमें 17,792 वाई-फाई हॉटस्पॉट है।
  • सरकार का लक्ष्य पीएम-वाणी आधारित पहुँच का 10 जून तक 1000 रेलवे स्टेशन, 20 जून तक 3000 रेलवे स्टेशन और 30 जून, 2022 तक सभी 6102 स्टेशनों तक विस्तार करना है।

हरियाणा में मिली 5000 साल पुरानी ज्वेलरी फैक्ट्री

हरियाणा के राखी गढ़ी में खुदाई के दौरान भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) ने 5000 साल पुरानी आभूषण बनाने वाली फैक्ट्री की खोज़ की है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) हरियाणा के राखी गढ़ी (सिंधु घाटी स्थल) में पिछले 32 वर्षों से खुदाई का कार्य कर रहा है। इस दौरान प्राप्त हुई यह फैक्ट्री राखी गाढ़ी में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग की अब तक की सबसे बड़ी खोजों में से एक हैं।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

  • निदेशक डॉ. अमरेंद्र नाथ के नेतृत्त्व में ASI टीम ने राखी गढ़ी में खुदाई शुरू की थी।
  • वर्तमान तक की गई खुदाई में घरों की संरचना, एक रसोई परिसर और एक 5000 साल पुरानी आभूषण बनाने की फैक्ट्री की खोज की गई है।
  • इस ASI की टीम को खुदाई में हजारों साल पुराने सोने और ताम्बे के आभूषण भी मिले हैं।
  • ASI की उपलब्धि यह दर्शाती है कि यह स्थल प्राचीन समय में महत्त्वपूर्ण व्यापर केंद्र रहा होगा।
  • ASI ने पिछले 2 महीनों से राखी गढ़ी में हजारों मिट्टी के बर्तन, शाही मुहरें और बच्चों के खिलौने समेत कईं चीजें खोजी है, जो सभ्यता के विकास की ओर तेजी से बढ़ने की ओर इशारा करती हैं।

श्रीलंकाई प्रधानमंत्री ने दिया इस्तीफा

श्रीलंका में आर्थिक संकट एवं स्थानीय नागरिकों के विदेशी मुद्रा फैक्टरी समुदाय ने परीक्षण किया अपार विरोध के चलते प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे को अपना इस्तीफा सौंप दिया। इससे राष्ट्रपति को अंतरिम सरकार बनाने और श्रीलंका में मौजूदा संकट के समाधान का मार्ग प्रशस्त करने में सहायता मिलेगी।

महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद नए प्रधानमंत्री का चयन :

राष्ट्रपति द्वारा विपक्ष के साथ एकता करके नई सरकार बनाने के तहत मौजूदा संसद को भंग किया गया तथा नए सिरे से संसदीय चुनाव कराने के पश्चात नए प्रधानमंत्री के रूप में रानिल विक्रमसिंघे का चयन किया गया।

श्रीलंका की वर्तमान स्थिति :

श्रीलंका वर्तमान में अपने सबसे खराब आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। देश के पास ईंधन, दवाओं और भोजन जैसी आवश्यक वस्तुओं के आयात हेतु पर्याप्त विदेशी मुद्रा भंडार तक नहीं है। इसके साथ यह अपने विदेशी ऋणों को चुकाने में भी असमर्थ है। देश की आर्थिक उथल-पुथल और बढ़ती महँगाई ने राजनीतिक अस्थिरता और नागरिक संघर्ष को जन्म दिया।

श्रीलंका की अर्थव्यवस्था में गिरावट तो पहले से थी और फिर कोविड -19 महामारी से आर्थिक स्थिति और अधिक खराब हो गई। चाय का निर्यात बाधित होने, पर्यटन क्षेत्र से इनकम बंद होने के साथ ही इनकम टैक्स में कटौती और अचानक जैविक खेती की ओर बढ़ने जैसे फैसलों ने श्रीलंका के आर्थिक संकट को बढ़ा दिया था।

रेटिंग: 4.79
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 600