Google plans to lays off

संकट में फंसे क्रिप्टो एक्सचेंज एफटीएक्स ने दिवाला संरक्षण के लिए आवेदन किया

न्याय विभाग और प्रतिभूति विनिमय आयोग एफटीएक्स और उसके मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) सैम बैंकमैन फ्राइड मामले की जांच कर रहा है। जांच आपराधिक गतिविधियों या प्रतिभूतियों से संबंधित उल्लंघनों का पता लगाने के लिए की जा रही है। इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने कहा कि वह इस जांच पर सार्वजनिक रूप से कुछ नहीं बता सकता।

जांच में यह पता लगाया जा रहा है कि क्या कंपनी ने बैंकमैन फ्राइड हेज फंड में दांव लगाने के लिए उपभोक्ताओं की जमा का इस्तेमाल किया गया। हेज फंड गतिविधि नियामक इस तरह के किसी उल्लंघन पर संबंधित व्यक्ति को दंडित कर सकता है।

बीओआई म्यूचुअल फंड

म्यूचुअल फंड निवेश दीर्घकालिक पूंजी प्रशंसा प्राप्त करने के लिए परिसंपत्तियों को विवेकपूर्ण ढंग से हेज फंड गतिविधि आवंटित करने में मदद करता है। म्यूचुअल फंड उत्पादों की बैंक की बिक्री को विभिन्न शाखाओं में और समर्पित रिलेशनशिप मैनेजरों के माध्यम से रणनीतिक रूप से रखे गए एएमएफआई / एनआईएसएम योग्य कर्मियों की पर्याप्त संख्या द्वारा म्यूचुअल फंड उत्पादों की बैंक की बिक्री को समर्थित किया जाता है।

Disclaimer

By clicking the link you will be redirected to the हेज फंड गतिविधि website of the third party. The third party website is not owned or controlled by Bank of India and contents thereof are not sponsored, endorsed or approved by Bank of India. Bank of India does not vouch or guarantee or take any responsibility for any of the contents of the said website including transactions, product, services or other items offered through the website. While accessing this site, you acknowledge that any reliance on any opinion, advice, statement, memorandum, or information available on the site shall be at your sole risk and consequences.

The Bank of India and its affiliates, subsidiaries, employees, officers, directors and agents shall not be liable for any loss, claim or damage whatsoever including in हेज फंड गतिविधि the event of deficiency in the service of such third party websites and for any consequences of error or failure of internet connection equipment hardware or software used to access the third party website through this link , slowdown or breakdown of third party website for any reason including and resulting from the act or omission of any other party involved in making this site or the data contained therein available to you including for any misuse of the Password, login ID or other confidential security information used to login to this website or from any other cause relating to your access to, inability to access, or use of the site or these materials in accordance thereto Bank of India and all its related parties described hereinabove stand indemnified from all proceedings or matters arising thereto.

By preceding further to access the said website it is presumed that you हेज फंड गतिविधि have agreed to the above and also the other terms and conditions applicable.

Twitter और Amazon के बाद अब Google भी करेगा कर्मचारियों की छंटनी, निकाले जा सकते हैं 10 हजार कर्मचारी

ग्रेडिंग प्लान के तहत गूगल कर्मचारियों को निकालने की योजना बना रही है. कर्मचारियों की ग्रेडिंग पर उन्हें बोनस और अन्य सुविधाएं देने से भी रोका जाएगा. इसका असर 10 हजार कर्मचारियों पर पड़ सकता है.

Google plans to lays off

Google plans to lays off

gnttv.com

  • नई दिल्ली,
  • 23 नवंबर 2022,
  • (Updated 23 नवंबर 2022, 7:37 AM IST)

दिया जाएगा 60 दिन का समय

बनाया जाएगा ग्रेडिंग सिस्टम

ट्विटर और मेटा के बाद टेक कंपनियों में छंटनी का दौर चालू है. अब गूगल का नाम भी इस लिस्ट में शामिल हो गया है. जी हां, गूगल कम से कम 10 हजार लोगों को नौकरी से निकालने की तैयारी कर रहा है. इसके लिए वो एक परफॉर्मेंस इंप्रूवमेंट प्लान भी लाया है. यह एक तरीके का रेटिंग सिस्टम होगा, जिसके अनुसार जिन कर्मचारियों की रेटिंग खराब होगी उन्हें कंपनी से निकाल दिया जाएगा.

बनाया जाएगा ग्रेडिंग सिस्टम
यह कदम एक्टिविस्ट हेज फंड के दबाव, बाजार की प्रतिकूल परिस्थितियों और खर्चों को कम करने की हेज फंड गतिविधि आवश्यकता के जवाब में है. गूगल की पैरेंट कंपनी Alphabet जल्द ही कर्मचारियों की छंटनी का आदेश जारी करने वाली है. इससे पहले Twitter,Amazon और Facebook-Meta जैसी दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनियों ने बड़ी मात्रा में कर्मचारियों की छंटनी की थी. नई प्रणाली के तहत, कंपनी ने प्रबंधकों से 6 फीसदी स्टाफ को निकालने जा रही है. इस योजना के तहत गूगल के प्रबंधक कर्मचारियों की ग्रेडिंग कर उन्हें बोनस व अन्य अनुदान देने से भी रोक सकेंगे. रिपोर्ट बताती है कि नई प्रणाली के तहत उन कर्मचारियों के प्रतिशत को भी कम करती है जो उच्च ग्रेड हासिल कर सकते हैं.

दिया जाएगा 60 दिन का समय
बता दें कि Alphabet में लगभग 1 लाख 87 हजार कर्मचारी काम कर रहे हैं. अल्फाबेट ने अभी तक इस रिपोर्ट पर टिप्पणी नहीं की है. इससे पहले आई रिपोर्ट में कहा गया था कि कंपनी स्टाफ को जॉब कट की दिशा में नई भूमिका के लिए आवेदन करने के लिए 60 दिन का समय देगी. हालांकि कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने कुछ महीने पहले इसका संकेत दिया था. उन्होंने कहा था कि Google एक कंपनी के रूप में मानता है कि "जब आपके पास पहले से कम संसाधन हैं, तो आप काम करने के लिए सभी सही चीजों को प्राथमिकता दे रहे हैं और आपके कर्मचारी वास्तव में प्रोडक्टिव हैं. "

हर तरफ छंटनी
अपनी रिपोर्ट में, The Information ने कहा कि सिस्टम पहले प्रबंधकों को बोनस का भुगतान नहीं करने का निर्णय लेने की अनुमति देगा. "चूंकि सिलिकॉन वैली में छंटनी हो रही है, Google अब तक कर्मचारियों को नहीं निकाला है. लेकिन जैसा कि बाहरी दबाव कंपनी पर अपने कर्मचारियों की उत्पादकता में सुधार करने के लिए बनाता है, एक नई प्रदर्शन प्रबंधन प्रणाली प्रबंधकों को अगले साल की शुरुआत में हजारों कम प्रदर्शन वाले कर्मचारियों को बाहर निकालने में मदद कर सकती है.

कई बड़ी टेक कंपनियों ने कोविड के दौरान ऑनलाइन गतिविधियों में उछाल पर दांव लगाया था, ताकि महामारी के कम होने पर भी यह जारी रहे. लेकिन वैसा नहीं हुआ. ट्विटर को खरीदने के बाद एलन मस्क ने हजारों कर्मचारियों को कंपनी से निकाल दिया. इसी महीने फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा ने भी ऐलान किया है कि 11,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला जाएगा.

क्रिप्टो एक्सचेंज CoinDCX को मिली 1,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा की फंडिंग

अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म Pantera Capital और हांगकांग के हेज फंड Steadview Capital की अगुवाई वाले इस फंडिंग राउंड में Kingsway और Kindred भी शामिल हैं

क्रिप्टो एक्सचेंज CoinDCX को मिली 1,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा की फंडिंग

इस इनवेस्टमेंट से क्रिप्टो इंडस्ट्री में ग्लोबल इनवेस्टर्स की बढ़ती दिलचस्पी का संकेत मिल रहा है

खास बातें

  • फंडिंग का इस्तेमाल क्रिप्टो से जुड़ी जानकारी बढ़ाने और इनोवेशन में होगा
  • क्रिप्टोकरेंसीज मे पेमेंट के ऑप्‍शन देने वाली फर्मों की संख्या बढ़ी है
  • कॉफी चेन स्‍टारबक्‍स भी बिटकॉइन के तौर पर पेमेंट स्‍वीकार कर रही है

सीरीज D फंडिंग में क्रिप्टो एक्सचेंज CoinDCX को 13.5 करोड़ डॉलर (लगभग 1,030 करोड़ रुपये) का इनवेस्टमेंट मिला है. अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म Pantera Capital और हांगकांग के हेज फंड Steadview Capital की अगुवाई वाले इस फंडिंग राउंड में Kingsway और Kindred भी शामिल हैं. इसका इस्तेमाल क्रिप्टो से जुड़ी जानकारी बढ़ाने और इनोवेशन में हेज फंड गतिविधि किया जाएगा.

CoinDCX ने एक स्टेटमेंट में कहा कि इस इनवेस्टमेंट से क्रिप्टो इंडस्ट्री में ग्लोबल इनवेस्टर्स की बढ़ती दिलचस्पी का संकेत मिल रहा है. CoinDCX ने हाल ही में Solidus Labs और Coinfirm जैसी ट्रेड सर्वेलांस फर्मों के साथ पार्टनरशिप की थी. इसका उद्देश्य एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग सुरक्षा को बढ़ाना और संदिग्ध गतिविधियों की रिपोर्ट उपलब्ध कराना है. CoinDCX के को-फाउंडर Sumit Gupta ने कहा, "कुछ बड़े इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स की ओर से इस फंडिंग हेज फंड गतिविधि से देश के क्रिप्टो इकोसिस्टम पर विश्वास मजबूत हो रहा है." देश में क्रिप्टो का इस्तेमाल बढ़ाने के लिए CoinDCX की योजना रेगुलेटर्स और इंडस्ट्री से जुड़े लोगों के साथ काम करने की है.

Pantera Capital के Paul Veradittakit का कहना था, "हमारा मानना है कि यह Web3 का शुरुआती दौर है और देश में इस सेगमेंट की एक बड़ी ताकत बनने की क्षमता है." क्रिप्टोकरेंसीज का इस्तेमाल लगातार बढ़ रहा है. इनमें सबसे ज्‍यादा डिमांड बिटकॉइन की है. क्रिप्टोकरेंसीज को पेमेंट के ऑप्‍शन के तौर पर स्‍वीकार करने वाली फर्मों की संख्या भी बढ़ रही है. कॉफी चेन स्‍टारबक्‍स भी बिटकॉइन के तौर पर पेमेंट स्‍वीकार कर रही है. Bakkt के प्‍लेटफॉर्म के जरिए पेमेंट स्‍वीकार की जाती है जो इस कंपनी का डिजिटल एसेट्स कस्‍टोडियन और एक्‍सचेंज है. इसे स्‍टारबक्‍स और हेज फंड गतिविधि माइक्रोसॉफ्ट ने पार्टनरशिप में बनाया है.

एक अन्य बड़ी कंपनी Home Depot लगभग तीन वर्ष से फ्लेक्सा की मदद से बिटकॉइन स्वीकार कर रही है. अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी Etsy अपने मर्चेंट्स को इंटीग्रेशन की पेशकश करती है. इससे ऑनलाइन मर्चेंट्स के लिए अपने स्‍टोर्स में बिटकॉइन पेमेंट स्‍वीकार करना आसान हो जाता है. एमेजॉन से जुड़ी होल फूड्स भी ग्रॉसरी शॉपिंग के लिए क्रिप्टोकरेंसी को स्वीकार कर रही है. यह पेमेंट एक्‍सचेंज प्‍लेटफॉर्म जेमिनी की मदद से ली जाती है. ग्लोबल इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी Microsoft अपने Xbox लाइव सहित हेज फंड गतिविधि Microsoft गेम्‍स और विंडोज ऐप की पेमेंट के लिए बिटकॉइन का भी ऑप्शन देती है.

रेटिंग: 4.15
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 879